Showing posts with label hair. Show all posts
Showing posts with label hair. Show all posts

Saturday, 20 August 2016

बड़े काम की चीज है छोटी सी लौंग, फ़ायदे जानकर हेरान रह जायेंगे आप... जानिए!

healthpatrika.com     09:39:00    
नई दिल्ली : लौंग की भारतीय खाने में एक खास जगह है। इसके उपयोग से खाने में स्वाद और महक के साथ-साथ कुछ अहम गुण भी जुड जाते हैं। इसका उपयोग तेल व एंटीसेप्टिक रुप में किया जाता है। लौंग में आपके स्वास्थ्य को दुरुस्त रखने के कई गुण होते हैं। 
benefites-of-cloves-gharelu-nuskhe-in-hindi

लौंग में होने वाला एक खास तरह का स्वाद इसमें होने वाले एक तत्व युजेनॉल की वजह से होता है, यही तत्व इसमें होने वाली एक खास तरह की गंध को पैदा करता है। हालांकि लौंग हर मौसम में हर उम्र के व्यक्तियों के लिए फायदेमंद होती है पर सर्दी के मौसम में इसकी खास उपयोगिता है क्योंकि इसकी तासीर बहुत गर्म होती है।

लौंग के तेल की तासीर काफी गर्म होती है और इस कारण इसे बहुत सावधानी से इस्तेमाल करना चाहिए। जब आप अपनी त्वचा पर इसे लगाएं तो किसी चीज़ के साथ मिलाकर ही लगाएं।

आइये जानते है  लौंग के क्या-क्या फायदे होतें है...

1. दांतों में होने वाले दर्द में लौंग के इस्तेमाल से राहत मिलती है और यही कारण है कि 99 प्रतिशत टूथपेस्ट में होने वाले पदार्थो की लिस्ट में लौंग खासतौर पर शामिल होती है।

2. खांसी और बदबूदार सांसों के इलाज के लिए लौंग बहुत फायदेमंद होती है। लौंग का नियमित इस्तेमाल इन समस्याओं से छुटकारा दिलाता है। आप लौंग को अपने खाने में या फिर ऐसे ही सौंफ के साथ खा सकते हैं। इससे आपको खांसी से राहत मिलेगी।

3. सामान्य तौर पर होने वाली सर्दी को लौंग से दुरुस्त किया जा सकता है। आप लौंग के तेल की दस बूंदों को शहद के साथ मिलाकर दिन में दो से तीन बार इस्तेमाल करके अपनी सर्दी को ठीक कर सकते हैं। ऐसा करने से आपको सर्दी-जुकाम में राहत मिलेगी।

4. लौंग में दिमागी स्ट्रेस को कम करने का भी गुण होता है। लौंग को आप तुलसी, पुदीना और इलायची के साथ इस्तेमाल करके खुशबुदार चाय बना सकते हैं और चाहें तो यही मिक्स आप शहद के साथ इस्तेमाल करके भी स्ट्रेस से भी छुटकारा पा सकते हैं।

5. अगर आप त्वचा संबंधी समस्याओं जैसे मुंहासों, ब्लैकहेड्स,और व्हाइट हेड्स से परेशान हैं तो आपके लिए लौंग का तेल फायदेमंद हो सकता है। आपको इसको अपने फेसपैक में मिलाकर इस्तेमाल करें क्योंकि यह काफी गर्म होता है और इसको सीधे त्वचा पर नहीं लगाया जा सकता है।

6. लौंग का तेल अन्य किसी भी तेल के मुकाबले सबसे ज्यादा एंटीऑक्सीडेंट गुणों से भरपूर होता है। एंटीऑक्सीडेंट स्वस्थ त्वचा और शरीर् को तंदुरुस्त रखने में बहुत कारगर होते हैं। लौंग के तेल में मिनरल्स जैसे पोटेशियम, सोडियम, फॉस्फोरस, आयरन, विटामिन-A, और विटामिन-C अत्यधिक मात्रा में होते हैं।

7. लौंग के तेल को किसी जहरीले कीड़े के काटने पर, कट लग जाने पर, घाव पर और फंगल इंफेशन पर भी इस्तेमाल किया जाता है।

8. लौंग के इस्तेमाल से बनी चाय से बालों को बहुत फायदा होता है। लौंग की चाय को बाल कलर करने और शैम्पू करने के बाद लगाना चाहिए। इसे ठंडा करने के बाद ही बालों पर इस्तेमाल करना चाहिए। आपके बालों को सुंदर बनाने में यह बहुत कारगर है।

9.लौंग के उपयोग से उलटी आने की समस्या, जी घबराना और मॉर्निंग सिकनेस में आराम मिलता है। लौंग के तेल को इमली, थोडी सी शक्कर के साथ पानी के साथ पीना चाहिए।

10. लौंग से बालों के लिए कंडीशनर भी बनाया जा सकता है। अगर आपके बाल जल्दी-जल्दी उलझ जाते हैं तो लौंग से बना कंडीशनर बहुत असरकारक है।

# ऐसे बनाएं लौंग का कंडीशनर :- 

दो चम्मच पिसी हुई लौंग और आधा कप ऑलिव ऑइल को मिक्स करके धीमी आंच पर गर्म करना करे। इस मिक्स को आंच से उतारकर ठंडा कीजिए। अब इसे छान लीजिए और पैक करके रख दीजिए। जब भी आप शैम्पू करने जाते हैं इस मिक्स का थोड़ा हिस्सा अपनी हथेलियों के बीच में लीजिए और अपनी सिर की त्वचा पर लगा लीजिए। इसे 20 मिनट तक लगे रहने दीजिए और फिर शैम्पू कर लीजिए। ऐसा करने से आपके बल उलझे नही और बल सुन्दर दिखेंगे।

Tuesday, 2 August 2016

प्याज़ का रस के फायदे जानकर हेरान रह जायेंगे आप...

healthpatrika.com     09:59:00    
आखिर आजकल खुबसूरत बाल हर कोई चाहता है लेकिन इस व्यस्त दिनचर्या के चलते बालों का ख्याल रखना मुश्किल होता जा रहा है। घर पर बालों को धोना ही कई महिलाओं को कई मुश्किल खड़ी कर देता है जिसके लिए वह महंगे पार्लर में जा कर हेयर स्पा आदि लेती हैं। लेकिन आपको बता दे कि बालों की समस्याओं के लिए आपके घर में एक रामबाण घरेलु नुस्खा (Gharelu Nuskhe) मौजूद है।
benefits-of-onion-for-health

बालों का झड़ना, असमय सफेद होना, और रूसी की समस्या तो आम हो गई है। बालों की इन उलझनों के लिए प्याज एक वरदान है। प्याज बालों को झड़ने, रुसी, सफेदी और गंजे होते सिर की समस्याओं को दूर करती है।

प्याज हमारे घर में आसानी से मिल भी जाता है। प्याज में सल्फर (Sulfur) नामक मिनरल भरपूर मात्र में होता है , जो के बालों के विकास के लिए बहुत महत्वपूर्ण होता है। प्याज आपके बालों के बढ़ने की रफ़्तार को दोगुना तक बढ़ा सकता है।

प्याज भूरे रंग के बालों का उगना और बालों का झडना रोक सकता है। हमारे बालों का विकास  हमारे जींस (Genes) पर निर्भर करता है , लेकिन कई कारणों की वजेह से हमारे बालों का विकास रुक जाता है या कम हो जाता है।

ऐसे करे उपयोग :-

बालों को झड़ने से रोकने के लिए बालों पर प्याज़ के प्रयोग का सबसे बेहतरीन तरीका प्याज को रस के रूप में प्रयोग करना है। सबसे पहले आप, 3-5 प्याज छीलें और उन्हें अच्छे से पीस लें। इस पेस्ट को अपने हाथों से निचोड़कर इसका रस निकाल लें। अब इस रस को अपने सिर पर तथा बालों पर लगाएं।

इसे सिर पर आधे घंटे तक रहने दें एवं एक हलके शैम्पू का प्रयोग करके इसे धो ले। हफ्ते में 3 बार ऐसा करने से अच्छे परिणामों मीलेंगे।

बाल उगायें :

एक कटोरी में 2 चम्मच शहद लें और इसमें एक चौथाई कप प्याज का रस डालें। इन दोनों को अच्छे से मिलाएं एवं सिर पर मसाज करते हुए धीरे-धीरे लगाएं। अच्छे परिणामों के लिए इसका का प्रयोग हफ्ते में 3 बार करें।

प्याज, ऑलिव ऑयल, नारियल तेल पैक :-

इस पैक को बनाने के लिये कुछ प्या,ज ले कर पीस ले और उसका रस निकाल ले। उसमें एक चम्मरच ऑलिव ऑयल और नारियल तेल मिलाइये। इस मिश्रण को बालों में लगाइये, बालों की जड़ों में इस तेल को न लगाएं। इसे 2 घंटे तक लगा रहने के बाद शैंपू से धो लें। इस पैक को आप रोज लगा सकते  हैं। इससे बल काले और घने होंगे।
                                                                                     (Gharelu Nuskhe In Hindi)

Sunday, 31 July 2016

नाशपाती खानें होते है ये 9 हेरान कर देने वाले फायदे... जानिए!

healthpatrika.com     09:44:00    
नाशपाती खाने में मीठा, स्वादिष्ट के साथ-साथ बहुत पौष्टिक फल होता हैं। इसमें कई पोषक तत्व और औषधीय गुण पाए जाते हैं। नाशपाती में कैल्शियम, क्लोरीन, लोहा, मैग्नीशियम, सोडियम और सल्फर की कम मात्रा के साथ तांबा, फास्फोरस और पोटेशियम का एक अच्छा स्त्रोत होता हैं।
health-benefits-of-pear-in-hindi

आइये जानते है नाशपाती के फ़ायदे :-

*हड्डियों के लिए :-
नाशपाती में अधिक मात्रा में बोरोन होता है। बोरोन हड्डियों में कैल्शियम को बनाए रखने में मदद करता है। इसलिए नाशपाती का सेवन करने से आस्टियोपोरोसिस होने का खतरा नहीं होता।

*ब्लडप्रेशर :-
नाशपाती में कई ऑक्सीकरण रोधी तत्व होते हैं, जो उम्र को बढ़ने से रोकते हैं। ये उच्च रक्तचाप और हार्ट स्ट्रोक को रोकने में मदद करता है।

*कैंसर :-
नाशपाती में हाइड्रोऑक्सीनॉमिक एसिड होता है जो पेट के कैंसर को रोकने में मदद करता है। इसका फाइबर पेट के कैंसर को बढ़ने से रोकता है और बड़ी आंत को स्वस्थ बनाए रखता है। नाशपाती के नियमित सेवन से मेनोपॉज के बाद महिलाओं में होने वाले कैंसर का खतरा भी कम हो जाता है। इसमें मौजूद विटामिन-C और एंटीऑक्सीडेंट गुण कैंसर के नुकसान से कोशिकाओं की रक्षा करते है।

*पाचन तंत्र :-
नाशपाती फाइबर का एक अच्छा स्त्रोत हैं जो पाचन तंत्र को मजबूत बनाता हैं। इसमें मौजूद पेक्टिन कब्ज और दस्त को ठीक कर सकता है।

*मधुमेह नियंत्रण :-
फाइबर से युक्त नाशपाती मधुमेह रोगियों के लिए बहुत अच्छा फल है। इससे मीठा खाने की तलब में आराम मिलता है। इसकी शकर को खून धीरे-धीरे अवशोषित कर लेता है, फाइबर इसके स्तर को नियंत्रित रखता है।

*रक्तचाप :-
नाशपाती में मौजूद एंटीऑक्सीडेंट और ग्लूटाथिओन तत्व उच्च रक्तचाप और हार्ट स्ट्रोक को रोकने में मदद करते हैं।

*एनीमिया :-
नाशपाती में प्रचुर मात्रा में आयरन पाया जाता है, जो हीमोग्लोबिन के स्तर को बढ़ाता है। अगर कोई एनीमिया से पीड़ित हो तो उसे प्रचुर मात्रा में नाशपाती का सेवन करना चाहिए।

*इम्म्युन सिस्टम :-
नाशपाती का जूस हमारे इम्म्युन सिस्टम को मजबूत बनाता है जिससे की हमें सर्दी, खांसी, जुकाम जैसी बीमारियाँ नहीं होती।

*त्वचा, बाल और आँख :-

नाशपाती में मौजूद विटामिन-A और एंटीऑक्सीडेंट त्वचा पर उम्र बढ़ने के प्रभाव को कम करने, झुर्रियों, मुँहासे और त्वचा से संबंधी अन्य समस्याओं को रोकने में मदद करता हैं। यह बालों के झड़ने, धब्बेदार अध: पतन, मोतियाबिंद, उम्र बढ़ने की प्रक्रिया और अन्य समस्याओं के इलाज में सहायक होता हैं।

Sunday, 1 May 2016

अब सफेद बालों की टेंशन खत्म, आ गया है रामबाण नुस्खा

healthpatrika.com     22:11:00    
उम्र 20 की हो या 60 की अब सफेद बालों की समस्या आम बात हो गई है। पहले तो एक उम्र के बाद ही लोगों के बाल सफेद होना शुरू होते थे। लेकिन अब खानपान की अनियमितता और रहन-सहन में बदलाव के कारण बाल सफ़ेद आम बात हो गई है। कभी-कभी सफेद बालों के कारण शर्मिंदा भी होना पड़ता है।

hair health tips and gharelu nuskhe for white hair in hindi

लोगों को सफेद बालों की समस्या से निजात दिलाने के लिए कई कम्पनियों ने ढेरों उत्पाद बाजार में उतारे। लेकिन केमिकल के प्रभाव से बनाए गए, इन उत्पादों पर पूर्णतया विश्वास कर पाना भी मुश्किल है। आप की इन छोटी लेकिन शर्मिंदा करने वाली समस्या से निजात दिलाने के लिए ही हम आप के लिए लाए हैं। कुछ आसान और सटीक घरेलु नुस्खे। जो आपको इन सफेद बालों की समस्या से निजात दिलाने में सहायता करेंगे।
यह करे :- 

1.चाय पत्ती :- चाय पत्ती का उपयोग बालों को काला करने के लिए किया जा सकता है। चाय की पत्त‍ी को सबसे पहले पानी में डाल अच्छी तरह से उबाल ले। अब उबले हुये पानी को छान ले। अब उस पानी से बालो को धो लें। ऐसा करने से बाल धीरे-धीरे काले होने लगते है।

2.ब्लैक कॉफी :- ब्लैक कॉफी पीने के साथ-साथ सफेद बालों के लिए भी बहुत फायदेमंद है। बहुत ही कम लोगों को पता होगा की ब्लैक कॉफी से बालों को भी काला किया जा सकता है। ब्लैक कॉफी को पहले गरम पानी में मिला कर गाढ़ा घोल बना लें। इसके बाद मेहंदी जैसे लगा लें। जब यह लेप सूख जाए तब गुनगुन पानी से धो लें।

3.आंवला :- आंवले का उपयोग बालों को काला करने में काफी बेहतर माना गया है। आंवले का उपयोग करने के लिए सबसे पहले कच्चे आंवले को पानी में अच्छी तरह से उबाल लें और उसका गाढ़ा पेस्ट तैयार करे। और फिर इस पेस्ट को बालों की जड़ों पर लेप की तरह लगाएं तथा कुछ घंटे बाद पानी से बालों को धो लें। इस प्रयोग से आपके बाल जल्द ही एकदम काले और चमकदार हो जाएंगे।

4.करी पत्ता :- अब तक आप ने करी पत्ते का उपयोग स्वादिष्ट भोजन बनाने में ही किया होगा। लेकिन इन छोटे-छोटे पत्तों के अनेकों फायदे हैं। इसका उपयोग आप अपने बालों को काला करने में भी किया जा सकता हैं। करी पत्ते को नारियल तेल में तड़का लगा लें। इसके बाद तेल को ठंडा करके एक बोतल में रख लें और हर दिन बालों की जड़ों पर लगाएं। ऐसा करने पर आपके सफेद बाद धीरे-धीरे काले हो जाएंगे।

5.आम की गुठली :- बालों को प्रकृतिक काला करने में आम की गुठली के अंदर का सफेद भाग भी बहुत  लाभदायक होता है।

Tuesday, 26 April 2016

रोज सिर में लगाये प्याज फिर जो फायदे होंगे हेरान कर देने वाले... जानें!

healthpatrika.com     21:16:00    
प्याज सेहत के साथ-साथ बालों के लिए भी बहुत अच्छा होता है। प्याज में सल्फर पाया जाता है, जो कि बालों को दुबारा उगाने में और  गिरते बालों को रोकने में मददगार है।  प्याज के रस को लगाने से बालों की जड़ें मजबूत होती हैं। प्याज में एक प्रकार का रसायन होता है जिससे बाल मोटे व घने बनते हैं। तो जानिए प्याज का हैयर पैक कैसे बनाते हैं...

onion is an natural gharelu nuskhe to fight hair fall in hindi

प्याज का रस और शहद मिला कर बालों की जड़ों में लगाएं। इसे हफ्ते में दो-तीन बार लगाये। प्‍याज-लहसुन पेस्‍ट भी बेहद कारगर है। इस हेयर मास्क को महीने में एक बार लगाएं। इसे लगाने से बालों की लंबाई बढ़ेगी और बाल कम झड़ेंगे। जिन लोगों के बाल बहुत कम उगते हैं, उन्हें यह मास्क जरुर ट्राई करना चाहिये।

बालों को धोने से आधा घंटा पहले सिर में प्याज और लहसुन का पेस्ट लगा कर रखें। इससे बालों में ऐसी चमक आएगी कि आप भी देख कर हैरान रह जाएंगे। प्याज पीसकर उसका रस निकाल लें। रस से कुछ देर सिर की मालिश करें। आधे घंटे बाद बालों को धो डालें। कुछ दिनों फर्क खुद महसूस करेंगी। प्याज का रस हेयर ऑयल में मिलाकर भी काम में लिया जा सकता है।

प्याज के रस में ऑलिव ऑयल और नारियल तेल मिलाकर बालों में लगाएं। इसे जड़ों में न लगाएं। कम से कम दो घंटे लगा रहने दें। इस पैक को आप रोज लगा सकती हैं। इसी तरह बियर और नारियल तेल के साथ प्याज का गूदा मिलाकर लगाने से भी बाल घने और चमकदार होंगे।

Thursday, 3 March 2016

प्याज को रातभर रखे रम के गिलास में फिर जो फायदे होंगे हेरान कर देंगे आपको... जानिए

healthpatrika.com     20:35:00    

प्‍याज लगभग सभी के घर में उपलब्‍ध होता है। यह घर में उपलब्‍ध उत्पादों में बालों के लिए सबसे सस्ता व सबसे अच्छा उत्पाद हैं हालांकि अक्‍सर लोग इसकी तीखी गंध और इसे काटने पर आंखों में आने वाले आंसू के कारण इसे पसंद नहीं करते। लेकिन क्‍या आप जानते हैं कि प्‍याज बालों की विभिन्‍न प्रकार की समस्‍याएं जैसे बालों का झड़ना और दोमुंहें बालों को दूर करने में बहुत मददगार होती है।

gharelu nuskhe onion juice for hair in hindi
प्‍याज में मौजूद सल्‍फर बालों की जड़ों को पोषण देता है जिससे बालों के विकास में मदद मिलती है। इसलिए बहुत से लोग बालों की लंबाई बढ़ाने के लिए प्‍याज का रस लगाते हैं। प्‍याज में मौजूद एंटी-बैक्‍टीरियल गुण के कारण इसका रस बालों में लगाने से गिरते बालों को रोकने, रूसी और सिर के संक्रमण आदि को दूर करने में मदद मिलती है। यह घरेलू उपाय बालों को चमकदार और मजबूत बनाने के लिए अद्भुत रूप से काम करता है। अगर आप भी अपने बालों को स्‍वस्‍थ, चमकदार और लंबे बालों की चाह रखते हैं तो प्‍याज के रस से बने हेयर पैक का इस्‍तेमाल कर सकते हैं। तो आइये जानते हैं कुछ ऐसे ही आसानी से बनाए जाने वाले प्‍याज के पैक के बारे में।

प्‍याज का रस : प्‍याज का रस निकालकर इसे अपने सिर की त्‍वचा यानी स्‍कैल्‍प पर लगाकर 25-30 मिनट के लिए छोड़ दें। साथ ही अपने सिर पर तौलिये को लपेट लें ताकी बालों के रोम इसे अवशोषित कर लें। फिर शैंपू से बालों को अच्‍छी तरह से धो लें।

प्‍याज के साथ बीयर : बीयर आपके बालों को प्राकृतिक रुप से चमकदार बनाती है। प्‍याज के रस को बीयर में मिक्‍स करके लगाने से बालों की ग्रोथ होने के साथ बाल कंडीशन भी होते हैं। बाल को बढ़ाने के लिए इस उपाय को एक सप्‍ताह में दो बार जरुर करें।

प्याज और नारियल का तेल : नारियल तेल के साथ प्‍याज के रस को मिक्‍स करने पर यह बालों के विकास को बढ़ाता है और बालों को पोषण भी देता है। प्‍याज के रस को तेल के साथ मिलाकर बालों में मसाज करें। फिर एक तौलिया लपेटें और भाप लें। यह उपाय स्‍कैल्‍प से मृ‍त त्‍वचा कोशिकाओं को हटाता है, जिससे बालों की ग्रोथ बढ़ जाती है।

प्‍याज के साथ शहद : बालों के विकास के लिए यह बहुत ही प्रभावी घरेलू उपाय है। इस पैक को बनाने के लिए प्‍याज का पेस्‍ट बनाकर उसमें कुछ बूंदें शहद की मिला लें। इस पेस्‍ट को बालों के उस हिस्‍से में लगाये जहां पर बाल कम हैं।

प्‍याज के साथ नींबू का रस : नींबू और प्‍याज के रस का प्रयोग बालों की ग्रोथ के साथ रूसी के इलाज में भी मदद करती है। नींबू का रस स्‍कैल्‍प को साफ करने के साथ बालों का झड़ना भी कम करता है।

प्याज का रस और रम : बालों के विकास के लिए प्याज के रस का प्रयोग सबसे आसान तरीका है। इसके लिए रातभर आपको रम के एक गिलास में घिसी हुई प्‍याज को डाल कर रखना होगा। सुबह इस मिश्रण को छान कर अपने सिर की मसाज करें। इससे आपके बालों को मजबूती मिलेगी और जल्‍द से जल्‍द बाल बढ़ने शुरु हो जाएगें।

gharelu nuskhe onion juice for hair in hindi
प्याज और अंडे की सफेदी : यह बात तो शायद सभी जानते हैं कि अंडा बालों के लिए बहुत ही फायदेमंद होता है। लंबे बालों की चाह रखने वाले लोगों के लिए प्याज और अंडे से बना हेयर पैक बहुत ही लाभकारी होता है। इस पैक को बनाने के लिए प्‍याज के रस में अंडे के सफेद हिस्‍से को मिक्‍स कर लें। फिर इस पैक को 25-30 मिनट अपने गीले बालों में लगाकर शैंपू से अची तरह धो ले।

प्‍याज के रस से बने हेयर पैक के इस्‍तेमाल से आप आसानी से बालों को लंबा, घना और चमकदार बना सकते हैं। साथ ही इसे लगाने से बालों की लंबाई बढेगी और बाल बहुत कम झडेगें। लेकिन इन उपायों को इस्‍तेमाल करते समय एक बात का ध्‍यान रखें कि एक समय में सिर्फ एक ही उपाय को अजमाये।

Wednesday, 24 February 2016

बालों की समस्‍याओं से छुटकारा पाने के लिए आजमायें ये 3 आयुर्वेदिक तेल...

healthpatrika.com     20:04:00    
स्‍वस्‍थ और घने बालों के साथ व्‍यक्तित्‍व में निखार अपने आप आ जाता है। हालांकि आज की जीवनशैली और प्रदूषण भरे वातावरण में बालों की सुंदरता को कायम रखना मुश्किल हो गया है। लेकिन यह इतना भी मुश्किल नहीं है क्‍योंकि आयुर्वेदिक तेलों से बालों से मसाज करआप अपने बालों को खूबसूरत बना सकते है। आइए कुछ आयुर्वेदिक तेलों के बारे में जानते हैं।

hair problem

आयुर्वेदिक तेल सिर में जा कर बालों की जड़ों को मजबूत करने का काम करते है यहां ऐसे ही कुछ तेलों की जानकारी दी गई है जो बालों की जड़ों और बालों को मुलायम करने के लिएबालों का झड़ना रोकने के लिएरुसी के लिएबालों को सफेद होने से बचाने के लिए और बालों को चमक व चिकना करने के लिए इस्‍तेमाल किया जा सकता है

1.गुडहल का तेल : इस तेल को लगाने से बाल काले और सुंदर हो जाते हैं। साथ ही यह तेल असमय बालों के सफेद होने से भी बचाता है और उसमें ब्‍लैक शाइन लाता है। इसके अलावा गुडहल का तेल बालों को पतला होने और झड़ने से भी रोकता है।

गुडहल का तेल बनाने की विधि :  गुडहल का तेल बनाने के लिए आपको 3 से 4 गुड़हल के फूल और मुठ्ठीभर पत्तियांएक चम्‍मच मेथी दाना और लगभग 250 ग्राम नारियल के तेल की जरूरत होती है। तेल बनाने के लिए सबसे पहले गुड़हल के फूल और पत्तियों को मिक्‍सी में पीसकर पेस्‍ट बना लें। फिर इसे एक बर्तन में लेकर इस पेस्‍ट में नारियल का तेल मिलाकर गर्म करें। इस पेस्‍ट को लगातार चलाते रहें। फिर इसमें मेथी दाना डालकर एक मिनट के लिए गर्म करें। ठंडा होने पर तेल को बोतल में भर लें। तेल का प्रयोग जब भी करेंहल्‍का गर्म जरूर करें।

2.आंवले का तेल : बालों के झड़नेअसमय सफेद होने और बालों की अन्‍य समस्‍याओं के लिए आंवले का तेल बहुत फायदेमंद होता है। यह बालों के लिए सबसे अच्‍छा आयुर्वेदिक उपचार है। आंवला तेल में मौजूद विटामिन-C और आयरनकैल्शियमफॉस्‍फोरस जैसे पोषक तत्‍व बालों और स्कैल्प को हेल्दी रखने में मदद करते है। पहले की महिलाएं आंवला को एक प्राकृतिक डाई के रूप में प्रयोग करती थी। आंवले का तेल सफेद हो रहे बालों को काला करने में मदद करता है।

आंवले का तेल बनाने की विधि : इस तेल को बनाने के लिए थोड़े से आंवले लेकर उसे छोटे-छोटे टुकड़ों में काटकर बारीक पेस्‍ट बना लें। इस पेस्‍ट को अपने हेयर ऑयल या फिर नारियल के तेल में मिलाकर बोतल के ढक्‍कन को कस के बंध कर दें। आंवले के तेल को अच्‍छे से मिक्‍स होने के लिए एक हफ्ते का समय लगेगा।एक हफ्ते के बाद तेल को छानकर किसी साफ बोतल में भर लें। इस तेल को आप अपने बालों में हफ्ते में एक या दो बार जरूर लगाएं। अपनी उंगलियों के पोरों को सिर पर हल्के-हल्के घुमाते हुए तेल लगाये। सिर धोने से 40 मिनट पहले यह तेल लगाएं।

3.भृंगराज तेल : आयुर्वेद में बालों के लिए भृंगराज को बहुत उपयोगी माना जाता है। इसे बालों का राजा कहा जाता है। आपके बाल झड़ रहे हो या आप रूसी की समस्‍या से छुटकारा पाना चाहते हैं तो भृंगराज का इस्तेमाल आपके लिए अचूक औषधि साबित होगा। रोजाना भृंगराज तेल से बालों में मालिश करने से बाल काले और घने होते हैं। इससे बालों का झड़ना बंद हो जाता है। इसे लगाने से बालों में रुसी भी कम होती है। यह सिर को ठंडक भी पहुंचाता है।

भृंगराज तेल बनाने की विधि : इसके लिए आप सबसे पहले भृंगराज के पत्तों का रस निकाल लें और उसमें उतनी ही मात्रा में नारियल का तेल मिलाकर धीमी आंच पर थोड़ी देर के लिए रख दें। केवल तेल रह जाए तो उसे उतार कर ठंडा कर लें। अगर धीमी आंच पर रखने से पहले आंवले का रस मिला लिया जाए तो तेल और भी अच्छा बनता है। इसके अलावा अगर बालों में रूसी हो या फिर बाल झड़ते हों तो इसके पत्तों का रस 15-20 मिलीग्राम लें। इस तेल का प्रयोग काफी फायदेमंद होता है।

Tuesday, 23 February 2016

स्किन और बालों की सुंदरता के लिए चावल है काफी फायदेमंद.... जानिए कैसे?

healthpatrika.com     13:02:00    
चावल ऐसा धान है जिसके बिना भोजन अधूरा होता है। चावल रसोई का एक महत्वपूर्ण हिस्सा है और यह जितना खाने में स्वादिष्ट लगता है उतने ही इसके अनेक फायदें भी होते है। क्या आप जानते है कि सेहत से भरपूर चावल आपकी स्किन और बालों को भी खूबसूरत बनाता है।

gharelu nuskhe rice makes your hair and skin shiney

चावल के फायदे : हेयर स्ट्रेटनर और केमिकल्स के ज्यादा इस्तेमाल से बाल खराब हो चुके हैं, तो इस मामले में चावल आपके बहुत काम आ सकता हैं। बालों को शैम्पू से धोने के बाद चावल के पानी से हल्के हाथों से स्कैल्प का मसाज करें। पांच मिनट के लिए इसे ऐसे ही छोड़ दें और फिर साधारण पानी से बालों को धो लें।

बालों में डाले जान : कई-कई बार बाल काफी कमजोर हो जाते हैं और आसानी से टूटने लग जाते हैं। ऐसा अमिनो एसिड, विटामिन और मिनरल्स की कमी के कारण होता है। इसलिए अपने बालों की चावल के पानी से मसाज करें ताकि आपके बालों की मजबूती बनी रहे। चावल का पानी न सिर्फ आपके बालों को मजबूत बनाता है बल्कि ये आपके बालों में चमक भी लाने का काम करता है। बालों को ज्यादा पोषण देने के लिए इसमें रोज़मैरी, लैवेंडर या टी ट्री जैसे असेंशियल ऑयल्स मिलाएं।

बालों को दें चमक : चावल का पानी न सिर्फ एक कंडीशनर का काम करता है बल्कि यह एक बेमिसाल शैम्पू का काम भी करता हैं। ज़रूरत है तो बस इसमें पिसा हुआ आंवला या शिकाकाई या संतरे का छिलका मिलाने की। अब बालों को चावल के पानी से धोएं और अपने बालों को बनाये खूबसूरत।

बेदाग और निखरी स्किन बनाएं : चावल के पानी को पूरे चेहर और गर्दन पर सर्कुलर मोशन में लगाएं। इसके बाद अपने चेहरे को इसी चावल के पानी सेधो लें।हाइपरपिग्मेंटेशन, बढ़ती उम्र या धूप की वजह से होने वाले दाग-धब्बे या गोरी रंगत पाने की चाह में ऐसी कई समस्या हैं, जिससे हम गुजरते हैं। आपकी इन परेशानियों को पलभर में दूर करेगा चावल का पानी। ये आपके बढ़े हुए पोर्स को कम कर चेहरे पर कसाव लाने का काम करेगा।


चावल के पानी में कई ऐसे विटामिन और मिनरल्स मौजूद होते हैं, जो त्वचा के लिए बहुत फायदेमंद होते हैं। इसमें पाए जाने वाले फ्रॉलिक एसिड और एलनटॉइन में एंटी-इंफ्लेमेंटरी इफेक्ट मौजूद होता है, जो त्वचा के लिए काफी फायदेमंद होते हैं। चावल का पानी एक कमाल का टोनर है। इसकी मदद से आप पा सकते हैं मुलायम त्वचा। इतना ही नहीं, ये पिंपल्स से होने वाले घावों को भरता है।

ये एक एस्ट्रिजेन्ट की तरह काम करता है और साथ ही पोर्स को कम करने में मददगार साबित होता है। बचे हुए चावलों को बॉडी स्क्रब बनाएं। चावलों को अच्छी तरह मसल लें और इसमें 2-3 चम्मच ऑलिव ऑयल या नारियल तेल, 2 चम्मच नींबू का रस या असेंशियल ऑइल्स की कुछ बूंदे मिलाकर बॉडी पर लगाएं। इससे आपकी त्वचा मुलायम बनेगी।

Friday, 19 February 2016

ये 7 आसान योग करे और पायें बालों की समस्याओं से छुटकारा..

healthpatrika.com     14:33:00    
आजकल बाल पतले होने, झड़ने, उम्र से पहले सफेद होने या अस्वस्थ होने जैसी कई समस्याएं रहती हैं। अगर इन समस्याओं से निपटने लिए ज्यादा घरेलू उपचार नहीं कर सकते तो कम से कम ये 7 आसान योगासन तो कर ही सकते हैं। इससे न सिर्फ बाल सुंदर और घने बनेंगे बल्कि अपच और कम खून के बहाव जैसी समस्याएं भी दूर होंगी।

yoga for healthy hair in hindi


सर्वांगासन : पीठ के बल सीधे लेट जाएं और पैरों को इस तरह ऊपर उठाएं कि अंगूठे छत की तरफ हों। गर्दन, सिर औऱ पीठ के सहारे संतुलन बनाएं और हाथों को रीढ़ की हड्डी पर रखें। इस आसन से भी खून का बहाव सिर तक अच्छा होता है और बाल स्वस्थ होते हैं। इसे सांस लेने में भी आसानी होती है।

पवनमुक्तासन : पीठ के बल लेटें और घुटने को सीने की तरफ मोड़ें। फिर हाथ से घुटनों को जकड़ लें। घुटनों को अंदर मोड़ते वक्त सांस अंदर लें और जैसे-जैसे घुटनों को वापस सीधा करें, सांस छोड़ें। इससे न सिर्फ बाल खुबसुरत होंगे बल्कि अपच की समस्या भी दूर होती है। पाचन सही होने से बाल भी स्वस्थ होते हैं।

उष्ट्रासन : सबसे पहले घुटने के बल खड़ें हों, और फिर पीठ और सिर को पीछे की तरफ झुकाएं। इस आसन को इस तरह करें कि आपके हाथ एढ़ियों तक पहुंचें। कुछ देर इसी मुद्रा में रहें और सांस लेते रहें। जैसे-जैसे इस मुद्रा से पहली वाली साधारण मुद्रा में वापस आएं, सांस छोड़ें। ऐसा करने से बाल टूटने और पतले होने की परेशानी दूर हो जाएगी। परन्तु अगर पीठ में कोई गहरी चोट लगी है तो इसे न करें।

वज्रासन : सर्वप्रथम घुटनों को मोड़ कर बैठें औऱ रीढ़ की हड्डी सीधी रखें। हाथों को जाघों के ऊपर रखें। फिर सांस अंदर लें और छोड़ें। इसी तरह कुछ देर करते रहें। इस मुद्रा से शरीर की प्रतिरोधक क्षमता सुधरती है जो सिर की खाल में होने वाले किसी भी तरह के इंफेक्शन से लड़ती है। इसे खाने के तुरंत बाद भी कर सकते हैं।
yoga for healthy hair in hindi


भुजंगासन : सबसे पहले पेट के बल सीधा लेटें। हाथों को सामने जमीन पर, कंधों से सीधे रखें। अब अपना वजन कुहनी पर डाल दें औऱ हथेली के सहारे सीने को ऊपर उठाएं। पैर सीधे ही रखें और इस मुद्रा में 20-25 सेकेंड तक रहें।

शीर्षासर : इस आसन में अपने शरीर को सिर के बल संतुलित करना होता है, हाथों का सहारा लेकर। ये यकीनन मुश्किल है लेकिन अगर नियमित तौर पर किया तो बालों को बहुत फायदा मिलेगा। ऐसा करने से खून सिर तक पहुंचता है जिससे जरूरी पोषक तत्व मिलते हैं और बालों की जड़ें मजबूत होती हैं।

प्राणायाम : यह सबसे सरल होता हैं। सबसे पहले नाक के एक छोड़ से धीरे धीरे सांस लें औऱ दूसरे से तुरंत छोड़ें। ऐसा करने से खून का बहाव अच्छा होता है औऱ दिमाग बेहतर तरीके से काम करता है। शरीर से हानिकारक टॉक्सिन बाहर निकलते हैं। तनाव दूर होता है जो कि बाल झड़ने के पीछे एक अहम कारण है।


Tuesday, 16 February 2016

अब चुकंदर के पैक से नही झड़ेंगे बाल, जानिए केसे?

healthpatrika.com     21:05:00    
बालों का झड़ना और असमय गंजापन आज एक गंभीर समस्या है। वर्तमान में तनाव और बहुत अधिक प्रदूषण के कारण बाल झड़ने लगे हैं। हम घंटों ट्रैफिक में फंसे रहते हैं जिसके कारण गाडि़यों से निकलने वाले धुएं का असर बालों पर भी बहुत अधिक पड़ता है और परिणामस्वरूप बाल झड़ते हैं।

gharelu nuskhe beetroot pack for treating hair loss in hindi

अनियमित दिनचर्या और काम के दबाव के कारण तनाव ने लगभग सभी को अपनी गिरफ्त में लिया है जिसके कारण बाल झड़ते हैं। अस्वस्थ खानपान और आनुवांशिक कारण भी बालों के गिरने का एक महत्वपूर्ण कारण हैं। लेकिन इसके उपचार के लिए सबसे अच्छी दवाईया आपके किचन में मौजूद हैं। जानिए कैसे चुकंदर के प्रयोग से आप झड़ते बालों का उपचार कर सकते हैं।

यह करें :-

- चुकंदर के पत्तों को लेकर पानी में तब तक उबालें जब तक पानी आधा न हो जाये।

- अब पत्तियों को निचोड़कर अच्छे से पेस्ट बना लीजिए।

- अब इस पेस्ट में एक चम्मच हीना मिलाकर अपने सिर पर अच्छे से इस पेस्ट को लगायें।

- इस पेस्ट को 20 से 25 मिनट तक बालों में लगा रहने दें। फिर बालों को अच्छी तरह धो लें।

- इस तरीके को अधिक प्रभावी बनाने के लिए इसे सुबह के वक्त हफ्ते में 3 से 4 बार उपयोग करें।

- इसके अलावा चुकंदर के पत्ते और हल्दी पावडर मिलाकर सिर की त्वचा पर लगाना भी अच्छा उपाय है। इस पेस्ट को रोजाना इस्तेमाल किया जा सकता है।

- चुकंदर के रस में थोड़ा सा सिरका मिलाकर सिर में लगाएं या फिर चुकंदर के रस में अदरक का रस मिलाकर बालों में मसाज कीजिए और सुबह बालों को अच्छी तरह से धो लीजिए।

चुकंदर कैसे उपयोगी है :-

- चुकंदर में विटामिन-B और विटामिन-C, फॉस्फोरस, कैल्सियम, प्रोटीन आदि जरूरी तत्व होते हैं जो बालों के विकास में सहायक होते हैं। ये तत्व एंटी-ऑक्सीडेंट की तरह हैं जो कि बालों को प्राकृतिक रूप से निखारते भी हैं।

- चुकंदर से सिर के खुले रोमछिद्र बंद होते हैं जिससे बालों को मजबूती मिलती है।

- पोटैशियम की कमी भी बालों के झड़ने का प्रमुख कारण है और चुकंदर में पोटैशियम होता है।

- अगर आप बालों को बढ़ाना चाहते हैं तो रोज चुकंदर का जूस पियें। इसके अलावा पालक और गाजर का जूस भी बालों को मजबूती प्रदान करता है।


© 2011-2014 Health Patrika. Designed by Bloggertheme9. Powered by Blogger.